Sunday, 9 February 2020

सीधी: "यादें अर्जुन सिंह" कवियों नें देर रात तक सजाई महफिल, पर्यावरण मंत्री सुरेन्द्र बघेल, स्व. अर्जुन सिंह को याद कर हुये भावुक।

  • "यादें अर्जुन सिंह" कवियों नें देर रात तक सजाई महफिल।
  • पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह एवं पर्यावरण मंत्री सुरेन्द्र सिंह बघेल "हनी" रहे उपस्थित।
  • मंत्री सुरेन्द्र बघेल, स्व. अर्जुन सिंह को याद कर हुये भावुक, कहा दाऊ साहब हमेशा मेरे परिवार को अपना परिवार मानते थे।
  • मंत्री सुरेन्द्र बघेल नें पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह से कहा की आप का यह भतीजा आप जब भी याद करेंगें हाजिर रहेगा, आप के मार्गदर्शन से ही मै आज यहां तक पहुंचा हूं।
  • मंत्री श्री बघेल नें आयोजन समिति के सयोजक श्री राजकुमार सिंह का उन्हे इस कार्यक्रम में आमंत्रित करनें के लिये आभार व्यक्त किया।

सीधी: मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री, पूर्व केंद्रिय मंत्री, पंजाब के पूर्व राज्यपाल एवं भारतीय राजनीति के दिग्गज राजनेता स्व. कुंवर अर्जुन सिंह की स्मृति में आज आठ फरवरी को ‘यादें अर्जुन सिंह’ द्वितीय सोपान के तहत सीधी के छत्रसाल स्टेडियम में अखिल भारतीय कवि सम्मेलन एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया गया था, जिसमें देश के कई जानें मानें कवियों नें अपनें कविता पाठ से देर रात तक महफिल सजाते हुये श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया।


कार्यक्रम में पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, कमलनाथ सरकार के पर्यावरण मंत्री सुरेन्द्र सिंह बघेल, पूर्व मंत्री भगवान सिंह यादव एवं कमलेश्वर पटेल, पूर्व विधायक सुखेन्द्र सिंह बन्ना एवं तिलकराज सिंह, प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष लालचंद गुप्ता, प्रदेश कांग्रेस महासचिव महेंद्र सिंह एवं ज्ञान सिंह, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष चिंतामणि तिवारी, कांग्रेस जिला अध्यक्ष रुद्रप्रताप सिंह उपस्थित रहे।यह कार्यक्रम देर रात तक चला, जिसमें देश के ख्यातिप्राप्त कवियों एवं शायरों नें अपनी प्रस्तुती से श्रोताओं को गुदगुदाते हुये लोट पोट कर दिया। कवियों में गजेन्द्र सोलंकी, अशोक सुन्दराणी, अनिल चौबे, हाशिम फिरोजबादी, संभु सिखर, मुमताज, राधकांत पांडेय एवं अखिलेश द्विवेदी नें अपनी प्रस्तुती दी।

कमलनाथ सरकार के पर्यावरण मंत्री नें किया स्व. अर्जुन सिंह को याद।


पर्यावरण मंत्री सुरेन्द्र सिंह बघेल नें स्व.अर्जुन सिंह को याद करते हुये कहा की दाऊ साहब हमेशा से ही मेरे परिवार को अपना परिवार समझते थे। उन्होनें कहा की दाऊ साहब ने ही मेरे पिता को मंत्री बनाया, मंत्री श्री बघेल नें कहा की मेरे क्षेत्र में पहली बार कोई हेलीकाप्टर उतरा था तो वो दाऊ साहब के जमानें में और दाऊ साहब ने पहली बार एक आदिवासी यानी मेरे पिता जी को उसमें बैठाया। आगे मंत्री सुरेन्द्र सिंह ने भावुक होते हुये कहा की मेरा क्षेत्र दाऊ साहब का क्षेत्र है, आज भी हमारे घरों में दाऊ साहब की तस्वीर है और मेरी दादी आज भी सुबह उठकर उसमें माला पहनाती है।

पर्यावरण मंत्री ने पूर्व नेता प्रतिपक्ष से कहा की, आप जब भी अपनें भतीजे यानी मुझे याद करेंगे मै हाजिर रहूंगा।


पर्यावरण मंत्री नें कहा की, जब मेरे पिता जी राजनैतिक उतार चढ़ाव के दौर से गुजर रहे थे, तब मै बिना अपनें पिता को बताये दिल्ली चला गया और दाऊ साहब से मिला। उनसे कहा की अब हम लोग राजनीति कैसे करेंगें, हमारी तो कोई सुनता ही नही, तब दाऊ साहब ने कहा था की जाओ मेहनत करो और अपनी पहचान खुद बनाओ। आगे बोलते हुये मंत्री श्री बघेल नें कहा, की 2013 के चुनाव में राहुल भैया नें मुझे टिकट दिलवाया, मेरे लिये चुनाव प्रचार किया, मै राहुल भैया के मार्गदर्शन में आज मंत्री बनकर आप लोंगों के सामनें खड़ा हूँ । आगे बोलते हुये उन्होनें कहा की राहुल भैया का यह भतीजा हमेशा आप की सेवा के लिये है, भैया जब भी बोलेंगें मै हाजिर रहूंगा। मंत्री श्री बघेल नें आयोजन समिति के संयोजक श्री राजकुमार सिंह का भी आभार व्यक्त किया।

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी: कोरोना का कहर जारी, जिले में मिले 18 नए कोरोना संक्रमित।

26 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग। कुल संक्रमित 814 डिस्चार्ज 573 एक्टिव केस 238 मृत्यु 3 सीधी: जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ० नागेंद्र बिहारी ...