Saturday, 15 February 2020

विष्णु दत्त शर्मा म.प्र. भाजपा के नये अध्यक्ष नियुक्त, सीधी विधायक केदार शुक्ला नें निवर्तमान अध्यक्ष राकेश सिंह की कार्यशैली पर खड़ा किया था सवाल।


भोपाल: मध्यप्रदेश में कांग्रेस, सरकार बनानें के बाद भी पिछले एक साल से जहां अपना अध्यक्ष नही चुन पा रही, वहीं दूसरी ओर भाजपा नें अपनें जिला अध्यक्षों को बदलनें के बाद, आज अपनें नये प्रदेश अध्यक्ष का भी ऐलान कर दिया। भाजपा ने विष्णु दत्त शर्मा को प्रदेश की जिम्मेदारी सौेपी है। अबतक राकेश सिंह प्रदेश की कमान संभाल रहे थे। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने उनके नाम का ऐलान किया है।


कौन हैं विष्णु दत्त शर्मा?
विष्णु दत्त शर्मा को वीडी शर्मा के नाम से भी जाना जाता है। वर्तमान में वीडी शर्मा खुजराहो से सांसद है, और मूलत: मुरैना के रहने वाले हैं। वह संघ परिवार के बेहद करीबी माने जाते हैं। अब विष्णु दत्त शर्मा राकेश सिंह का स्थान लेगे।खास बात ये है कि भाजपा ने शर्मा का नाम ऐलान कर सबको चौंका दिया है, अबतक माना जा रहा था कि बीजेपी राकेश सिंह को दोबारा से रिपीट करेगी, वही दौड़ में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज भी दूसरे नंबर पर चल रहे थे।लेकिन पार्टी ने शर्मा के नाम का ऐलान कर सभी अटकलों पर विराम लगा दिया है। विष्णुदत्त शर्मा 32 वर्षों से लगातार सक्रिय राजनीति में है।
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से राजनीति शुरू करने के बाद विष्णुदत्त शर्मा को संगठन में अनेक पद मिले। शर्मा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के जिला संगठन मंत्री से लेकर जिला संयोजक, प्रदेश मंत्री, प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय अध्यक्ष तक रहे। इसके बाद करीब 6 से 7 साल पहले भाजपा से जुड़ गए। यहां भी संगठन का कार्य देख रहे थे। कई चुनावों में संगठनात्मक प्रभारी भी रहे। प्रदेश की भाजपा राजनीति में बड़ा नाम जाना जाता है।  मौजूदा समय में वह भाजपा मध्यप्रदेश के प्रदेश महामंत्री है। प्रदेश की राजनीति में उन्हें बड़ा चेहरा माना जाता है। संघ से भी उनका जुड़ाव रहा है। 1987 से राजनैतिक कॅरियर शुरू करने वाले विष्णुदत्त शर्मा वैसे तो आम चुनावों से दूर ही रहे है, लेकिन 2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा ने उन्हें खजुराहो सीट से भाजपा प्रत्याशी बनाया और वो सांसद चुनें गये।

जब सीधी विधायक केदार नाथ शुक्ला नें निवर्तमान अध्यक्ष को लेकर कहा था "राकेश सिंह पार्टी अध्यक्ष रहनें लायक नही"।
ऐसे में जब यह माना जा रहा था की, राकेश सिंह पार्टी अध्यक्ष बनें रहेंगें, अचानक से नये अध्यक्ष के ऐलान होनें से राजनैतिक गलियारों मे कई तरह की चर्चाओं नें जोर पकड़ना शुरु कर दिया है। दरअसल झाबुआ उपचुनाव में मिली करारी हार के बाद से ही राकेश सिंह पर सवाल उठनें लगे थे। सीधी से भाजपा विधायक एवं मध्य प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेता केदारनाथ शुक्ला का बड़ा बयान सामने आया था। उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह पर गंभीर आरोप लगाए थे। 
उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह की कार्यशैली पर सवाल खड़े करते हुए कहा था कि वह अपनी जिम्मेदारियों को सही तरह से नहीं निभा पा रहे हैं। यही नहीं उन्होंने राकेश सिंह के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए केंद्रीय नेतृत्व से उन्हें हटाने तक की मांग कर दी थी। उन्होंने कहा कि राकेश सिंह अध्यक्ष पद पर रहने लायक नहीं है। उन्होंने कहा कि वह पार्टी फोरम पर झाबुआ हार के कारण पर अपनी बात रखेंगे।

नये अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा नें केन्द्रीय नेतृत्व का जताया आभार।  

No comments:

Post a comment

Latest Post

सीधी: "वायरल ऑडियो" को लेकर प्रदेश कांग्रेस सचिव नें, भाजपा जिलाध्यक्ष से मांगा इस्तीफा।

सीधी: सीधी भाजपा के जिलाध्यक्ष इन्द्रशरण सिंह चौहान का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर पिछले दिनों बड़ी तेजी से वायरल हुआ था। इस वायरल ऑडियो में भाज...