Sunday, 19 January 2020

VIDEO: CAA की समर्थन रैली में प्रदर्शनकारियों को महिला कलेक्टर एवं डिप्टी कलेक्टर ने मारे चांटे, प्रदर्शनकारियों नें भी डिप्टी कलेक्टर की खींची चोटी।


राजगढ़ : संशोधित नागरिकता कानून (CAA) की आग अब मध्य-प्रदेश में भी जोर पकड़ते दिख रही है। ऐसा ही एक मामला राजगढ़ से सामनें आया है, जहां महिला कलेक्टर निधि निवेदिता एवं डिप्टी कलेक्टर प्रिया वर्मा के साथ राजगढ़ जिले के ब्यावरा में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) का समर्थन कर रहे प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प का एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में दोनों महिला अधिकारी भाजपा प्रदर्शनकारियों को थप्पड़ मारते हुये दिख रहीं तथा प्रदर्शनकारियों ने भी इन दोनों अधिकारियों से धक्कामुक्की की और डिप्टी कलेक्टर प्रिया वर्मा की चोटी भी खींची, जिससे उनके बाल बिखर गये।
आज का दिन लोकतंत्र के सबसे काले दिनों में गिना जायेगा: शिवराज सिंह चौहान।
अब यह मामला राजनीतिक रंग लेता हुआ दिख रहा है।भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया कि आज का दिन लोकतंत्र के सबसे काले दिनों में गिना जायेगा। आज राजगढ़ में डिप्टी कलेक्टर साहिबा ने जिस बेशर्मी से सीएए के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं को लताड़ा, घसीटा और चाँटे मारे, उसकी निंदा मैं शब्दों में नहीं कर सकता।क्या उन्हें प्रदर्शनकारियों को पीटने का आदेश मिला था?
उन्होंने कहा कि प्रदेश में शासन-प्रशासन द्वारा कांग्रेस सरकार की चाटुकारिता के नये आयाम गढ़े जा रहे हैं। सरकार के तुग़लकी फरमानों पर अमल में कौन रेस में पहले आता है, इसकी होड़ लगी है। कुछ अधिकारी भूल गए हैं कि वे किसी पार्टी के हुक्म बजाने के लिए नहीं बल्कि जनता की सेवा हेतु पद पर हैं। चौहान ने लिखा कि कलेक्टर मैडम, आप यह बताइये कि कानून की कौन सी किताब आपने पढ़ी है जिसमें शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे नागरिकों को पीटने और घसीटने का अधिकार आपको मिला है? सरकार कान खोलकर सुने ले, मैं किसी भी कीमत पर मेरे प्रदेशवासियों के साथ इस प्रकार की हिटलरशाही बर्दाश्त नहीं करूंगा। उन्होंने कहा कि शासन-प्रशासन के अधिकारी-कर्मचारी गलती से भी यह न भूलें कि सरकारें पर्मानेंट नहीं होती हैं, वो बदलती हैं. बुराई का अंत और अच्छाई की विजय निश्चित है, इसलिए नागरिकों की सेवा की ज़िम्मेदारी, जो आपको मिली है, उसे निभाने में अपनी ऊर्जा, जज़्बा, जुनून और मेहनत लगाएँ।

देंखें विडियो 👇



No comments:

Post a comment

Latest Post

ललित सुरजन का निधन पत्रकारिता के लिए बड़ी क्षति: अजय सिंह।

ललित सुरजन में मायाराम सुरजन के पूरे गुण विद्यमान थे: अजय सिंह। भोपाल: मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि मै...