Thursday, 16 January 2020

सिंधिया की डिनर डिप्लोमेसी: राज्यसभा की दावेदारी मजबूत करनें, शक्ति प्रदर्शन की कोशिश?


भोपाल: मध्य-प्रदेश में कांग्रेस की सरकार एवं कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनें एक साल से जादा का वक़्त हो गया है,  और कमलनाथ अभी भी मुख्यमंत्री  और पीसीसी चीफ़ की दोहरी भुमिका में है। मध्यप्रदेश कांग्रेस को नया पीसीसी चीफ़ ना मिल पानें की वजह, मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं कांग्रेस के क्षत्रपों सिंधिया, दिग्विजय सिंह तथा अजय सिंह की आपसी खींचतान को माना जा रहा है।
ऐसे में अब कमलनाथ सरकार के परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने डिनर कार्यक्रम में सीएम कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ ही सपा, बसपा और निर्दलीय विधायकों को भी शामिल होने का न्योता भेजनें को, सिंधिया की डिनर डिप्लोमेसी के जरिए अपने शक्ति प्रदर्शन की कोशिश से जोड़कर देखा जा रहा है।
इस डिनर पार्टी में सीएम कमलनाथ के साथ सिंधिया एक साथ होंगे। इस डिनर डिप्लोमेसी के जरिए सिंधिया अपने शक्ति प्रदर्शन की कोशिश में है। ताकि प्रदेश से राज्यसभा के लिए खाली होने वाली एक सीट पर उनकी दावेदारी मजबूत हो जाए और पीसीसी चीफ़ के फैसले पर भी उनकी पकड़ मजबूत हो।
हालांकि, सिंधिया ने कुछ दिन पहले ही, कभी भी कुर्सी के लिए मोह नहीं पालने की बात कही थी। लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव हारनें के बाद से ही उनके समर्थक उन्हें पीसीसी चीफ़ बनानें की मांग कर रहे है, लेकिन सिंधिया अब राज्यसभा की सीट के जरिए संसद में वापसी की तैयारी में है और इसके लिए कांग्रेस के अंदर माहौल बनाने की कोशिश में लगे हुये हैं।

सिंधिया समर्थक मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के यहां डिनर कार्यक्रम आज शाम 8 बजे।
कमलनाथ सरकार के मंत्री एवं सिंधिया समर्थक गोविंद सिंह राजपूत के डिनर कार्यक्रम को सिंधिया की शक्ति प्रदर्शन के साथ जोड़कर देखा जा रहा है। गुरूवार शाम 8 बजे सिंधिया, गोविंद सिंह राजपूत के घर पहुंचेंगे जहां वह डिनर कार्यक्रम में शामिल होंगे। सीएम कमलनाथ, दिग्विजय सिंह, दीपक बाबरिया के साथ साथ सरकार के सभी मंत्री इस कार्यक्रम में शामिल होंगे।

राजनीतिक हालातों पर चर्चा संभव।
इस डिनर कार्यक्रम में सिंधिया और कमलनाथ के बीच राजनीतिक हालातों को लेकर भी चर्चा होने की उम्मीद है। प्रदेश में निगम मंडलों में होने वाली राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर भी डिनर में चर्चा हो सकती है।
सभी की नजरें आज गुरूवार को होने वाले डिनर के आयोजन पर होगी, क्योंकि कई बार सीएम कमलनाथ और सिंधिया के बीच दूरी होने की खबरें निकल कर सामने आईं थीं। सिंधिया पत्रों के जरिए कई बार सरकार को कटघरे में खड़ा करने की कोशिश भी कर चुके हैं, ऐसे में डिनर डिप्लोमेसी के जरिए अपनी शक्ति का प्रदर्शन कर सिंधिया उनके राज्यसभा की दावेदारी को मजबूत बनाने की कोशिश में लगें है।

No comments:

Post a comment

Latest Post

अजय सिंह का कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संदेश, कहा- उपचुनाव में कांग्रेस को जिताने पूरी ताकत से जुट जायें।

भाजपा को सबक सिखाने का समय आ गया है: अजय सिंह। कांग्रेस की जीत से पूरे देश में सरकार गिराने- बनाने में सौदेबाजी के खिलाफ संदेश जायेगा: अजय स...