Tuesday, 31 December 2019

मंत्री जीतू पटवारी का रीवा दौरा विवादों से घिरा ! कार्यकर्ता को लात, घूंसे मारते हुये वीडियो वायरल।


रीवा:  कमलनाथ सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री का रीवा दौरा विवादों से घिर गया है, उनका एक वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। इस वायरल वीडियो में मध्यप्रदेश के उच्च शिक्षा और खेल मंत्री जीतू पटवारी अपनी ही पार्टी के कार्यकर्ता को लात और घूंसा मारते हुए, उसे कमरे से बाहर धक्के मार कर बाहर निकालते हुए दिखाई दे रहे हैं।
मंत्री का यह वीडियो रीवा जिले का है। गौरतलब है कि मंत्री जीतू पटवारी सोमवार को एक दिवसीय प्रवास में रीवा पहुंचे थे और कई कार्यक्रमों हिस्सा लिया था।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान हुआ हंगामा।
जीतू पटवारी सोमवार को रीवा में पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे उसी दौरान कार्यकर्ताओं की गुटबाजी खुलकर सामनें 
आनें लगी, कार्यकर्ताओं कि इस हरकत से मंत्री पटवारी नाराज हो गये और उन्होनें पहले कार्यकर्ताओं को कमरे से बाहर करने का प्रयास किया, फिर एक कार्यकर्ता के पैर में लात मारी और उसे घूसा मारते हुए कमरे से बाहर कर दिया। इसी दौरान कुछ कार्यकर्ताओं ने इस घटना का वीडियो बना लिया और फिर ये वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया।

देरी से चालू हुई मंत्री की प्रेस कॉन्फ्रेंस।
हुआ यह कि, प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए मंत्री जीतू पटवारी देर के पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि अब इस कमरे का दरवाजा बंद कर दो जब तक प्रेस कॉन्फ्रेंस चलेगी कोई भी अंदर बाहर नहीं जाएगा। इस दौरान कुछ लोग बाहर से दरवाजा पीटने लगे और जब दरवाजा खुला तो मऊगंज के पूर्व जनपद अध्यक्ष बृजेन्द्र शुक्ला गेट पर खड़े थे और टीआरएस कॉलेज के जनभागीदार समिति के अध्यक्ष दिवाकर द्विवेदी से भिड़ गए। यह देखकर मंत्री ने बृजेन्द्र को बुलाकर बैठा लिया लेकिन हंगामा शांत नहीं हुआ। इसके बाद मंत्री जीतू पटवारी खुद उठे और सभी को बाहर जाने को कहा।
जिसके बाद मंत्री जीतू पटवारी ने कार्यकर्ता को लात मारी और फिर घूसा मारते हुए उसे कमरे से बाहर कर दिया। इस दौरान मंत्री ने बृजेन्द्र शुक्ला से पूछा आप कांग्रेस पार्टी के हो क्या?

रीवा में कांग्रेस पहले से ही कमजोर।
रीवा में कांग्रेस पहले से ही काफी कमजोर है, यहां से कांग्रेस का एक भी विधायक नही है। सांसद भी भाजपा से है, ऐसे में अब यह देखना होगा कि कार्यकर्ताओं पर इस घटना का क्या असर होगा और आगे आनें वाले वक़्त में रीवा से अपनी जमीन खो चुकी कांग्रेस का क्या हाल होगा। 

देंंखें वीडियो👇👇


No comments:

Post a comment

Latest Post

ललित सुरजन का निधन पत्रकारिता के लिए बड़ी क्षति: अजय सिंह।

ललित सुरजन में मायाराम सुरजन के पूरे गुण विद्यमान थे: अजय सिंह। भोपाल: मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि मै...