Monday, 4 November 2019

सीधी भाजपा में फिर दिखी गुटबाज़ी, किसान आक्रोश आंदोलन में सीधी से भाजपा विधायक केदारनाथ शुक्ला नही हुये शामिल।


सीधी: सीधी भाजपा में आज फिर गुटबाज़ी देखनें को मिली, मौका था भाजपा द्वारा आयोजित किसान आक्रोश आंदोलन का, जिसमें सीधी से भाजपा विधायक केदारनाथ शुक्ला शामिल नही हुये,जिसको लेकर पार्टी में एक और नया विवाद खड़ा हो गया है। दरअसल आज भाजपा के किसान आक्रोश आंदोलन में शामिल नहीं होने से नेताओं में नाराजगी नजर आ रही है।

बता दें कि आज भाजपा प्रदेशभर में कमलनाथ सरकार के खिलाफ किसानों की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रही है। इसी कड़ी में आज धौहनी बिधायक कुंवर सिंह और सीधी भाजपा अध्यक्ष डा. राजेश मिश्रा के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट के सामने वीथिका परिसर में प्रदर्शन​ किया। इस दौरान सीधी विधायक केदारनाथ प्रदर्शन में शामिल नहीं हुए। इसे लेकर नेताओं और कार्यकर्ताओं में नाराजगी देखने को मिली।

गौरतलब है की झाबुआ उपचुनाव में भाजपा की हार के बाद भी सीधी विधायक केदारनाथ शुक्ला नें प्रदेश नेतृत्व पर सवाल खड़े किये थे। उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह पर गंभीर आरोप लगाए थे। 
उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह की कार्यशैली पर सवाल खड़े करते हुए कहा था कि वह अपनी जिम्मेदारियों को सही तरह से नहीं निभा पा रहे हैं। यही नहीं उन्होंने राकेश सिंह के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए केंद्रीय नेतृत्व से उन्हें हटाने तक की मांग कर दी थी। उन्होंने कहा कि राकेश सिंह अध्यक्ष पद पर रहने लायक नहीं है।उन्होंने कहा था कि वह पार्टी फोरम पर झाबुआ हार के कारण पर अपनी बात रखेंगे।
केदारनाथ शुक्ला के इस बायन के बाद भाजपा मे हडकंप मच गया था, और भाजपा नेतृत्व नें आनन फानन में, विधायक श्री शुक्ला को कारण बताओ नोटिस थमा दिया था।

No comments:

Post a comment

Latest Post

ललित सुरजन का निधन पत्रकारिता के लिए बड़ी क्षति: अजय सिंह।

ललित सुरजन में मायाराम सुरजन के पूरे गुण विद्यमान थे: अजय सिंह। भोपाल: मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि मै...