Saturday, 14 September 2019

PCC चीफ़ पर फैसला: सिर्फ तारीख पे तारीख, अजय सिंह, जीतू पटवारी या तुलसी सिलावट, कौन होगा अगला अध्यक्ष?


भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के मसले पर सिर्फ और सिर्फ तारीख बढ़ रहीं हैं। कांग्रेस संगठन में प्रदेश अध्यक्ष का नाम तय होना है परंतु गुटबाजी के चलते तारीखें बढ़ रहीं हैं। अब एक बार फिर तारीख बढ़ गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार अब सितम्बर के तीसरे या चौथे सप्ताह में नाम तय किया जाएगा।

अजय सिंह, जीतू पटवारी या तुलसी सिलावट, कौन होगा अगला अध्यक्ष?
खबर यह भी है, की ज्योतिरादित्य सिंधिया अब रेस से बाहर हो चुके है, और उन्होनें खुद कहा है की वो अब महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में अपना जादा ध्यान लगाना चाहतें है। ऐसे में अब खबर यह निकल कर आ रही की अब पीसीसी चीफ़ के रेस मे पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह तथा कमलनाथ सरकार के मंत्री जीतू पटवारी और तुलसी सिलावट का नाम प्रमुखता से आ रहा है। 
लेकिन यदि सोनिया गांधी के "एक व्यक्ति एक पद" के सिद्धांत को ध्यान मे रखा जाय तो मंत्री जीतू पटवारी तथा तुलसी सिलावट का नाम रेस से बाहर हो सकता है, क्युकी दोनो ही कमल नाथ सरकार मे कैबिनेट मंत्री है, और पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह के नाम पर सहमति बन सकती है।

दिग्विजय-सिंघार विवाद की चर्चा भी नहीं हुई, सिंघार दिल्ली में , आलाकमान मिलने को तैयार नहीं।
प्रदेश कांग्रेस के नए अध्यक्ष की नियुक्ति पर अब अगले सप्ताह ही फैसला होने की संभावना है। उधर, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और वन मंत्री उमंग सिंघार विवाद पर भी कोई चर्चा नही हो पायी।
अनुशासन समिति के अध्यक्ष एके अंटोनी ने इस मसले पर चर्चा के लिए बैठक बुलाई थी, लेकिन कोरम पूरा नहीं होने के कारण बैठक टल गई। फिलहाल मप्र के नए प्रदेशाध्यक्ष की नियुक्ति का मामला टल गया है, अब इस पर अगले सप्ताह निर्णय लिए जाने की संभावना है। 

दिग्विजय- सिंघार विवाद को लेकर पार्टी आलाकमान ने खासी नाराजगी जताई थी।
सुर्खियों में रहे वन मंत्री उमंग सिंघार और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के मसले को लेकर पार्टी आलाकमान ने खासी नाराजगी जताई थी और पार्टी में अनुशासन रखने की हिदायत दी थी। इस विवाद के बाद से ही वन मंत्री उमंग सिंघार दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं। वहां वे पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के सामने अपना पक्ष रखना चाहते हैं, लेकिन अब तक वहां उनकी सुनवाई नहीं हुई है। वहीं, दिग्विजय सिंह ने सोनिया गांधी से चर्चा हुई है, जिसमें उन्होंने कहा है कि आरोप-प्रत्यारोपों के दौर को वरिष्ठ नेता हस्तक्षेप करते तो स्थिति भयावह नहीं होती।

1 comment:

Latest Post

सीधी: कोरोना का कहर जारी, मिले 24 नए कोरोना संक्रमित केस।

10 व्यक्तियों ने जीती कोरोना से जंग। कुल संक्रमित 717 डिस्चार्ज 531 एक्टिव केस 183 मृत्यु 3 सीधी : जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ० नागेंद्र बिहारी ...